MP Board: 7 सितंबर से बोर्ड क्लासेस चालू, असाइनमेंट जरूरी जनिये नया उपडेट

भोपाल। कोरोना युग में, यह सुनिश्चित करने के लिए एक नई शिक्षा नीति लागू की गई है कि छात्रों की शिक्षा खराब न हो। शुक्रवार देर रात मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (MPBSE) के सचिव ने इस संबंध में आदेश जारी किए हैं। इसके तहत 7 वीं से 9 वीं से 12 वीं तक के छात्रों के लिए ऑनलाइन लर्निंग सेशन होगा। इसके लिए छात्रों को माशिम का ऐप डाउनलोड करना होगा।

नई नीति के अनुसार, पूरे पाठ्यक्रम को 10 इकाइयों में विभाजित करके 15 दिनों में एक इकाई को समाप्त करने का लक्ष्य रखा गया है, जिसके बाद बोर्ड द्वारा प्रत्येक इकाई का मूल्यांकन किया जाएगा। विल, जिसे वे कहीं से भी कभी भी दे सकते हैं। माशिम ने हाई स्कूल और हायर सेकंडरी स्कूलों, छात्रों और शिक्षकों के लिए माशिमं नाम से एक ऐप डिज़ाइन किया है। इसमें सभी को नामांकित करना अनिवार्य है। इसके माध्यम से परीक्षा आवेदन पत्र भरने, शुल्क जमा करने, गृह कार्य और अंक दिए जाएंगे। अधिक जानकारी के लिए बोर्ड की वेबसाइट www.mpbse.nic.in भी प्राप्त की जा सकती है। यही नहीं, ऑनलाइन मूल्यांकन के कारण शिक्षकों की लापरवाही भी संभव नहीं होगी। उन्हें विषय को अच्छे से पढ़ना होगा। यदि मूल्यांकन गलत है, तो यह उन पर गिर सकता है।

कैसे तैयार किया जाएगा रिजल्ट

पेपर 100 अंक होंगे, जिसे बच्चा एप पर ही डाउनलोड कर सकता है और घर पर ही किताब खोलकर हल कर सकेगा। यदि कोई बच्चा समय पर पेपर देने में असमर्थ है, तो विद्यार्थी को एक सप्ताह का समय दिया जाएगा। दूसरे सप्ताह में, उसे दोबारा अध्याय तैयार करना होगा और अपना पेपर देना होगा। यानी एक सप्ताह को छोड़ने के बाद भी दूसरे सप्ताह में पेपर देने ही होंगे। उसके बाद भी, अगर वह पेपर नहीं देता है, तो बोर्ड से नामांकन समाप्त कर दिया जाएगा। 10 नंबर के पेपर में 30 वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न, 3 अंक के 10 प्रश्न और 4 अंक के 10 प्रश्न होंगे। इसमें विद्यालय द्वारा आंतरिक मूल्यांकन के लिए 70 अंक भेजे जाएंगे और बोर्ड 30 अंकों का परीक्षण करेगा। इसके आधार पर रिजल्ट तैयार होगा। – कक्षा 9 से 12 तक के लिए उपरोक्त प्रणाली लागू होगी, जो अब शिक्षण और मूल्यांकन में शिक्षक और स्कूल की भूमिका को मजबूत करेगी।

30 सितंबर तक होगा एडमिशन

प्रवेश 30 सितंबर तक होगा मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (एमपी बोर्ड) ने नियमित छात्रों की प्रवेश तिथि बढ़ा दी है। एमपी बोर्ड से संबद्ध संस्थानों में नियमित छात्रों (सांसदों) के प्रवेश के लिए, प्रवेश की अंतिम तिथि 30 सितंबर तक बढ़ा दी गई है। मंडल ने सोमवार को इस संबंध में आदेश जारी किए हैं। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से संबद्ध स्कूल 30 सितंबर 2020 तक अपने स्कूलों में नियमित छात्रों के प्रवेश की कार्यवाही को पूरा कर सकते हैं।

52 नई नीती पर आज चर्चा करेंगे शिक्षा मंत्री

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ . यादव शिक्षक दिवस 5 सितम्बर को दोपहर एक बजे से अपने राज्य के प्राध्यापकों से एक वेबिनार के जरिये उच्च शिक्षा को लेकर हो रहे कई सारी चुनौतियों के साथ नई शिक्षा नीति को लेकर भी प्राध्यापकों से बात किए। नई शिक्षा नीति में विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के साथ कौशल विकास , आत्मनिर्भरता भारतीय मूल्यों और आदर्शों जैसे कई महत्वपूर्ण विषयों का समावेश किया गया है ।

नई नीती की खास बातें

  • दिनॉक दिनोंक 07/09/2020 से ऑनलाईन शिक्षा सत्र भी प्रारंभ किया जाएगा।
  • 07 बजे से 10 बजे तक दूरदर्शन पर ऑडियो – विजुअल लेशन, पाठ्यक्रम सामग्री का प्रसारण कक्षावार किया जाएगा।
  • असाइनमेंट ( Home Work) के माध्यम से छात्रों का पूरा मूल्यांकन भी किया जायेगा ।
  • करना सभी छात्रों को अनिवार्य होगा । जो छात्र होम असाईनमेंट नहीं करेंगे वह आगे की क्लास में नहीं जा पाएंगे ।
  • असाईनमेंट देने हेतु प्रत्येक विषय को 10 यूनिट में बॉट कर प्रत्येक यूनिट के बाद एक होम असाईनमेंट प्रदाय किया जायेगा ।
  • असाईनमेंट छात्रों को माशिम ऐप / पोर्टल के माध्यम से डायरेक्ट प्राप्त होंगे ।
  • माशीम द्वारा “ माशिम ” ऐप तैयार किया गया है जिसमें प्रत्येक हाईस्कूल एवं हायरसेकण्डरी विद्यालय / विद्यार्थी एवं शिक्षकों को अपना नामांकन कराना अनिवार्य होगा ।
  • जिसके ऐप्स के माध्यम से फीस भरना या शुल्क जमा करना/ परीक्षा आवेदन पत्र भरना / नामांकन भरना/ होम असाईनमेंट प्राप्त करना , होम असाईनमेंट के प्राप्तांको को अपलोड करने आदि की सुविधाएँ प्रदान की गई हैं।

Leave a Reply