सिंगरौली: लाठी से पीटकर बृद्ध की निर्मम हत्या आरोपी मौके से फरार

सिंगरौली। माड़ा थाना के ग्राम पंचायत अमिलवान में घटना दिनांक 24/08/2020 सायं 05:00 बजे की है मृतक रामानुग्रह प्रजापति पिता रामविशाल प्रजापति उम्र 58 वर्ष एवं आरोपी विजय कुमार खैरवार उर्फ पप्पू पिता मोतीलाल खैरवार उम्र 22 वर्ष किसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई थी फिर आरोपी विजय कुमार खैरवार के द्वारा रामानुग्रह प्रजापति के सर के पीछे कान के ऊपर दोनों साइड लाठी से जोरदार हमला कर दिया गया जिससे मृतक अचेत होकर बीच रोड में गिर पड़ा आरोपी शराब के नशे में धुत था वही प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो आरोपी मृतक के सर को लाठी से तब तक पीटता रहा जब तक खुद थक नहीं गया।

Read Also: SC, ST, OBC वर्ग: कमजोर वर्ग के कर्मचारियों के संयुक्त मोर्चे द्वारा संरक्षण की मांग. in English

मानवता हुई शर्मसार आरोपी शराब के नशे में वृद्ध को पीटता रहा और स्थानीय लोग देखते रहे तमाशा



घटनास्थल शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय अमिलवान घटनास्थल से जितेंद्र कुमार सोनी का घर लगभग 10 मीटर की दूरी पर उत्तर दिशा में घर मौजूद है दक्षिण दिशा में माध्यमिक विद्यालय हैं घटनास्थल से चंद कदमों की दूरी पूर्व दिशा में जगत नारायण पाण्डेय रामरक्षा कुशवाहा माधव कुशवाहा का घर है पश्चिम भाग में अनिरुद्ध प्रसाद पाण्डेय का पारिवारिक रहायसी मकान है इतना ही नहीं आरोपी जहां पर पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया है वहीं पर पड़ोस में पहले किसी व्यक्ति की मृत्यु हो गया था जिसका द्वादश ग्यरहों क्रिया का कार्यक्रम मंडप के नीचे चल रहा था उसी मंडप के नीचे महा पात्रों का भोज भी चल रहा था घटनास्थल पर लगभग आधा सैकड़ा लोग उपस्थित रहे फिर भी किसी ने बीच-बचाव का प्रयास नहीं किया।

माड़ा पुलिस की भूमिका पर खड़े हो रहे हैं सवाल

आपको बता दें घटना सूर्यास्त सायं 05:00 बजे की है और पुलिस घटना स्थल पर 07:30 बजे पहुंच रही है यानी घटना स्थल पर 2 घंटे 30 मिनट की देरी से पुलिस पहुंची है या तो इसे पुलिस की लापरवाही कहें या फिर पुलिस और आरोपी की रजामंदी मृतक घायल अवस्था में खून से लथपथ तड़पता रहा लोग देखते रहे तमाशा पास में मौजूद लोगों ने डर वस एम्बुलेंस को नहीं बुलाया 05:00 बजे से लेकर 07:00 बजे तक बीच सड़क पर मृतक रामानुग्रह प्रजापति दर्द से कराहता रहा फिर 07:00 बजे के बाद तड़प तड़प कर बीच सड़क पर अपने प्राण को त्याग दिया अचानक सांसे थम गई माड़ा पुलिस यदि तत्परता दिखाई होती तो शायद मृतक बच जाता हालांकि मृतक के सर में गंभीर चोट था वैज्ञानिक अधिकारी एफएसएल की टीम घटनास्थल पर मौजूद रही।

डीएसपी को चकमा देकर फरार हुआ आरोपी

घटनास्थल पर माड़ा पुलिस फोर्स पूरे बल के साथ मौजूद रही थाना प्रभारी डीएसपी चंद्रशेखर पांडे को आरोपी चकमा देकर फरार हो गया घटना स्थल से 500 मीटर की दूरी पर आरोपी को छिपे होने की सूचना मिली थी रात होने के कारण आरोपी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकला खबर लिखे जाने तक पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने का प्रयास रत रही फिर भी आरोपी पुलिस के हाथों नहीं लग पाया है घर से आरोपी के माता-पिता भी फरार हैं।

पुलिस के संरक्षण में बिक रहा अवैध शराब व गांजा

माड़ा थाना कि कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर अधिकतर किराना दुकानों में अवैध शराब की कुचिया सेंटर खोली गई हैं और क्षेत्र में गांजा के अवैध कारोबारी फल फूल रहे हैं इस तरह से अवैध कारोबार में लिप्त अपराध को बढ़ावा देने वाले लोगों पर पुलिस कार्यवाही क्यों नहीं करती जैसे अमिलवान में बड़ी ही दुख भरी घटना घटी जिसका जड़ शराब है यदि आरोपी शराब के नशे में धुत नहीं होता तो निश्चित तौर पर हमारे और आपकी बीच इतनी बड़ी घटना देखने को नहीं मिलती सूत्रों की मानें तो शराब व गांजा के अवैध कारोबार में लिप्त लोगों की सूचना पुलिस को दी जाती है इसके बावजूद भी पुलिस कार्यवाही नहीं करती।

शव का अंत्यपरीक्षण कराकर दोपहर में परिजनों को सौंप दिया गया मृतक के गृह ग्राम अमिलवान सायं 05:00 बजे मुखाग्नि दिया गया।

खबरों के लिए इस न्यूज़ को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और अपडेट्स पाते रहें।
https://www.updated24.com/

Comment