भोपाल: खुद को भाजपाई दर्शाने में क्यों कर रहे शर्म सिंधिया- टुडे अपडेट्स

सिंधिया जी, सोशल मीडिया पर खुद को भाजपाई दर्शाने में क्यों शर्म महसूस कर रहे है ? खेर यह तो वे ही जानें !
All Updates with Rajendra Kumar, 7 June 2020
भोपाल।  कांग्रेस छोड़ने के पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जो कुछ किया था, वही सब फिर से दोहरा रहे हैं।  पहले की तरह खामोश भी और इंटरनेट प्रोफाइल में भी बदलाव कर दिया गया है।  कहा जा रहा है कि उन्होंने रेडियो हैंडल से ‘बीजेपी’ हटा दिया है।  फिर से खुद को जनसेवक और क्रिकेट प्रेमी बता रहे हैं।  यह भी कहा जा रहा है कि उन्होंने कभी अपने प्रोफाइल पर बीजेपी लिखा ही नहीं था।  सवाल ये खड़ा हो गया है कि अभी तक नहीं लिखा है तो इसकी वजह क्या है?  अब तक ज्योति सिंधिया की तरफ से कोई मंजूरी नहीं आई है।
ज्योतिराित्य सिंधिया
करीबियों के फोन हैं बंद
अटकलें ये भी हैं कि वो दोनों ही पार्टियों से नाराज हैं और अपने पिता माधवराव सिंधिया की तर्ज पर अलग पार्टी बना सकते हैं । भाजपा में जाने के बाद से ही सिंधिया अनमने से हैं । न तो कोई बयान आता है , न ही कहीं नजर आते हैं । शिवराज सिंह चौहान के होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार से भी गुस्सा होने की खबरें हैं । जिन 22 समर्थकों को लेकर वो भाजपा में गए हैं , उन सभी को टिकट मिलने में भी अड़चन आ रही है । शक इसलिए भी गहरा रहा है , क्योंकि अब तक अपनी ट्विटर प्रोफाइल से उन्होंने कांग्रेस की पोस्ट नहीं हटाई है । कहीं कमलनाथ सरकार की कर्ज माफी को सराहते दिख रहे हैं , तो कभी खुद को कांग्रेस का कार्यकर्ता बता रहे हैं । 
जितनी पोस्ट भाजपा की तारीफ में की हैं, कहीं ज्यादा तो उनके ट्विटर प्रोफाइल पर कांग्रेस की तारीफ में सिंधिया को लेकर चल रही अटकलें किसी नतीजे पर तो नहीं पहुंची हैं, लेकिन बातें तो होने लगी हैं।  क्या वो भाजपा का दामन छोड़ने की तैयारी में हैं?  सिंधिया के सबसे करीबी मंत्री तुलसी सिलावट और उनके पीए का फोन भी स्वीच ऑफ बता रहा है।
बीजेपी का प्रिफिक्स हटाने पर सिंधिया पर बातचीत
भाजपा बोली- ये है उनका निजी मामला भाजपा के पूर्व रहे हैं कि सैटेलाइट पर कुछ भी लिखें या हटाएं उनका निजी विषय है।  ऐसी कोई बात नहीं है, जिसे हवा दी जा रही है।  लोग पसंद करते हैं तो कुछ भी आंकड़ालन करते हैं।  प्रदेश प्रवक्ता गोविंद मालू कह रहे हैं
सदन रहे, कि गाँधीजी के हत्यारों की अनुयायी व मजदूरों-किसानों की मौतों की गुनाहगार पार्टी से जुड़ा हुआ दर्शाने में थोड़ा सा भी समझदार व्यक्ति शर्मिंदगी महसूस करेगा ही..।
खबरों के लिए इस न्यूज़ को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और अपडेट्स पाते रहें।
https://www.updated24.com/

Comment